बच्चों ने रावण नहीं, कोरोना का पुतला फूंका लगाये जय श्रीराम के नारे

0
28

उततर प्रदेश के शामली में विजयदशमी के पावन पर्व पर बच्चों ने रावण से भी ज्यादा खतरनाक बन चुके कोरोना का पुतला फूंका। उन्होंने भगवान श्रीराम के जयकारे लगाते हुए उनसे कोरोना को समूल नष्ट करने की प्रार्थना की।

शामली नया बाजार स्थित निर्मल वालिया मार्ग पर आज बच्चों ने समाज को संदेश दिया। इस समय पूरा विश्व कोरोना महामारी की चपेट में है। वर्तमान में रावण के पुतला दहन होने से ज्यादा आवश्यकता है कि किसी तरह से कोरोना महामारी से निजात मिल सके। कोरोना अब तक बड़ी संख्या में असमय ही लोगों की जिंदगानियां छीन चुका है।

व्यापारियों के व्यापार चौपट हो चुके हैं। देश की आर्थिक स्थिति का ग्राफ नीचे की ओर जा रहा है। जहां देखो, वहीं कोरोना से  हुआ नुकसान नजर आता है। इन्हीं स्थितियों को देखते हुए बच्चों ने आज  कोरोना महामारी का पुतला फूंका। पुतला फूंकते हुए उन्होंने भगवान श्रीराम के जयकारे लगाते हुए पूरे माहौल को भक्तिमय कर दिया। उन्होंने मर्यादा पुरषोत्तम भगवान श्रीराम से प्रार्थना की कि जल्द से जल्द कोरोना की वैक्सीन भारत बना ले और इस बीमारी को जड़ से उखाड़ फेंके। बच्चों  ने कोरोना का पुतला फूंककर खुशियां मनाईं और बड़ों का आशीर्वाद लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here