कोरोना काल में बढ़ी बेरोजगारी, लाखो लोगों ने गंवाई नौकरी

0
29

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी  के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के चलते देशभर में लगे लॉकडाउन के बाद करीब अप्रैल में 75 लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी नौकरी गंवाई.

नई दिल्ली: कोरोना काल में लोगों के सामने कई मुश्किलें हैं. महामारी के दौर में लोग अपनों को खो रहे हैं, महंगाई की मार झेल रहे हैं साथ ही बेरोजगारी भी बड़ी समस्या बन चुकी है. देश में बेरोजगारी दर लगातार बढ़ृ रही है. मई के महीने में तो बेरोजगारी की दर बढ़ कर बीते एक महीने की अपेक्षा दोगुने स्तर पर पहुंच गई है.

CMIE के आंकड़े

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) के आंकड़ों के मुताबिक, 16 मई को खत्म हुए सप्ताह के दौरान बेरोजगारी दर बढ़ कर 14.34 फीसदी हो गई. पिछले एक साल का यह सबसे अधिकतम स्तर है. बेरोजगारी दर 49 हफ्तों के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है. पिछले महीने (अप्रैल) की अपेक्षा यह दोगुने स्तर पर है.

ग्रामीण इलाकों में भी बढ़ रही बेरोजगारी

आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के चलते देशभर में लगे लॉकडाउन के बाद करीब अप्रैल में 75 लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी नौकरी गंवाई. ग्रामीण इलाकों में भी बेरोजगारी दर की रफ्तार तेज हो गई है. ग्रामीण इलाकों में पिछले साल की तुलना में ये दर 100 फीसदी बढ़कर 17.51 फीसदी पर पहुंच गई है. जानकारों के मुताबिक रोजगार के मोर्चे पर स्थिति चुनौतीपूर्ण रहेगी.

अप्रैल के आंकड़े

केंद्र सरकार के आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय बेरोजगारी दर 7.97 प्रतिशत पहुंच गई थी. शहरी क्षेत्रों में 9.78 प्रतिशत. ग्रामीण स्तर पर बेरोजगारी दर 7.13 प्रतिशत थी. मार्च में राष्ट्रीय बेरोजगारी दर 6.50 प्रतिशत थी. अब ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में बेरोजगारी बढ़ रही है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here