1 जनवरी से बंद हो जाएगा व्हाट्सअप

0
3120

1 जनवरी से आपके मोबाइल फ़ोन से जुड़े कई नियम बदलने वाले हैं जिनके चेंज होने से आपकी लाइफ पर असर पड़ना तय है। क्योंकि आज फ़ोन हर किसी के लिए सबसे जरूरी चीज बन गया है। नए साल से मोबाइल कॉलिंग, WhatsApp और Twitter के इस्तेमाल में बड़े बदलाव आएंगे। इसलिए आज हम आपको इन बदलावों की जानकारी दे रहे हैं जिससे आपको कॉल करने, WhatsApp और Twitter के इस्तेमाल करने में कोई दिक्कत नहीं आए।

 

पहली जनवरी से आपके पुराने मोबाइल फोन में Whatsapp बंद हो सकता है। WhatsApp की तरफ से पुराने वर्जन वाले एंड्रायड और iPhone में सपोर्ट खत्म किया जा रहा है। ऐसे में iOS 9 और Android 4.0.3 ऑपरेटिंग सिस्टम और उससे ज्यादा पुराने वर्जन पर चलने वाले स्मार्टफोन्स पर WhatsApp काम नहीं करेगा। बता दें कि iPhone 4 या इससे पुराने आईफोन से भी WhatsApp का सपोर्ट खत्म किया जा सकता है। लेकिन इससे आगले वर्जन के आईफोन यानी iPhone 4s, iPhone 5s, iPhone 5C, iPhone 6, iPhone 6s में अगर पुराना सॉफ़्टवेयर है तो इन्हें अपडेट किया जा सकता है। वहीं Android 4.0.3 से भी पुराने वर्जन पर चलने वाले स्मार्टफोन्स पर WhatsApp सपोर्ट नहीं करेगा।

अगर आप 1 जनवरी के बाद लैंडलाइन से किसी भी मोबाइल नंबर पर फोन लगाते हैं तो उसके लिए आपको 0 का इस्तेमाल करना होगा। बिना जीरो लगाए आपका कॉल नहीं लगेगा। अगले साल 15 जनवरी से एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। इसके तहत 15 जनवरी 2021 से फिक्स्ड फोन यानी लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल करने के लिए मोबाइल नंबर से पहले ‘0’ लगाना अनिवार्य होगा। नई व्यवस्था को लागू करने के लिए टेलिकॉम विभाग ने कंपनियों को 1 जनवरी तक जरूरी इंतजाम करने का निर्देश दे चुका है।

 

Twitter ने 20 जनवरी से अकाउंट वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को दोबारा शुरू करने का ऐलान किया है। मतलब अब आम पब्लिक अकाउंट को दोबारा से ब्लू वेरिफाइड टिक मिल सकेगा। वहीं इनेक्टिव अकाउंट का वेरिफिकेशन बंद कर दिया जाएगा। नई पॉलिसी के आने के बाद Twitter यूजर को 20 जनवरी से Twitter इस्तेमाल करते समय सतर्क रहना चाहिए, क्योंकि Twitter की पॉलिसी के उल्लंघन पर ऑटोमैटिकली वेरिफिकेशन बैज यानी ब्लू टिक मार्क हटा दिया जाएगा। Twitter की नई पॉलिसी के तहत अगर किसी अकाउंट को नियमों का उल्लंघन करता पाया गया, तो उसका वेरिफिकेशन हटा दिया जाएगा।

नए साल 2021 में एलईडी टीवी की कीमतें 10 फीसदी तक बढ़ सकती हैं। इसकी मुख्य वजह कॉपर, एल्यूमिनियम और स्टील की कीमतों में वृद्धि होना है। इसके अलावा, समुद्री और हवाई माल भाड़े में भी बढ़ोत्तरी हुई है। टीवी पैनल्स की कीमतों में 200 फीसदी की वृद्धि हुई है, वहीं क्रूड की कीमतें बढ़ने के चलते प्लास्टिक भी महंगी हो गई है। इसके चलते जनवरी से पैनासोनिक इंडिया, एलजी और थॉमसन ने अपने उत्पादों की कीमत बढ़ाने का फैसला किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here