नए साल के जश्न को लेकर इन राज्यों ने जारी की गाइडलाइंस

0
159

नया साल नजदीक आ रहा है. लेकिन कोरोना महामारी के प्रतिबंधों के चलते नए साल का जश्न फीका पड़ सकता है. उत्तर प्रदेश, गोवा, मध्य प्रदेश, राजस्थान जैसे कुछ राज्यों में नए साल के जश्न पर पाबंदी लगाते हुए सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है. नए साल के जश्न पर पाबंदी के साथ ही आतिशबाजी पर भी रोक लगाई है. वहीं कुछ राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है.

योगी सरकार ने नए साल पर कार्यक्रम में 100 से ज्यादा लोगों के शामिल होने पर रोक लगाई है. नए साल पर कार्यक्रम के लिए पुलिस-प्रशासन से भी इसकी इजाजत लेनी होगी. कार्यक्रम की मंजूरी मिलने के बाद कोविड नियमों का पालन भी करना होगा. गाइडलाइन में कहा गया है कि खुली जगह पर आयोजन होने की स्थिति में क्षमता के 40 प्रतिशत लोग ही इकट्ठा हो सकेंगे. आयोजनकर्ता को कार्यक्रम में कोरोना से बचाव के लिए सभी इंतजाम करने होंगे. कोविड नियमों का पालन नहीं करने पर आयोजनकर्ता पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

राजस्थान में कोविड-19 मामलों की संख्या 3 लाख के पार पहुंच गई. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार ने नए साल के जश्न को धूमधाम से मनाने या आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है. गहलोत ने सलाह दी कि दीवाली की तरह, राज्य के लोगों को अपने घरों के अंदर रहकर, कोविड -19 संक्रमण से खुद को बचाने के लिए अपने परिवार के सदस्यों के साथ नए साल का जश्न मनाना चाहिए.

गहलोत ने घोषणा की कि इन सभी को देखते हुए, आगामी कुछ हफ्तों के लिए राज्य में सभाओं, सामूहिक कार्यक्रमों और आतिशबाजी आदि पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा. रात का कर्फ्यू जारी रहेगा और सड़कों और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर पुलिस की गश्त और कार्रवाई अधिक सख्त होगी.

कोरोना के कारण लागू दिशानिर्देशों और इंग्लैंड में वायरस के नए स्वरूप का पता लगने से इस साल गोवा में नववर्ष के जश्न और पार्टियों के फीका रहने के आसार हैं. 2021 का स्वागत करने के लिए हजारों पर्यटक गोवा पहुंच चुके हैं लेकिन उड़ानों पर रोक के कारण इस साल राज्य में विदेशी पर्यटकों की कमी महसूस की जाएगी.

छुट्टियों के मौसम में गोवा में विदेशी यात्रियों की विशेष भीड़ होती है जो समुद्र तटों पर धूप स्नान करते नजर आते हैं. लेकिन यह बार पिछले सालों से हटकर होगा क्योंकि विभिन्न देशों से आने वाली उड़ानें अभी शुरू नहीं हुयी हैं. इस बीच ब्रिटेन में वायरस के नए स्वरूप मिलने के बाद कई देशों ने नए सिरे से उड़ानों पर रोक लगा दी है.

महाराष्ट्र में पांच जनवरी तक रात 11 बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा है. वहीं कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने 2 जनवरी तक रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है. कर्नाटक, महाराष्ट्र के बाद दूसरा राज्य है, जहां यूके में पाए गए कोरोनो वायरस के नए स्ट्रैन के बाद नए प्रतिबंधों की घोषणा की गई. इस सवाल का जवाब देते हुए कि क्या क्रिसमस सेलेब्रेशन को इससे छूट दी जाएगी, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री ने कहा कि 23 दिसंबर से 2 जनवरी के बीच रात 10 बजे के बाद किसी भी समारोह या उत्सव का आयोजन नहीं होने दिया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here