बुजुर्गों और बच्चों से ज्यादा इस उम्र के लोगों के लिए खतरनाक है कोरोना का नया अवतार

0
221

कोरोना का नया स्ट्रेन (Corona New Strain) मिलने से दुनियाभर में हड़कंप मचा हुआ है. कई देशों ने इसके चलते दोबारो लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया है तो कई देशों ने ब्रिटेन (Britain) से यात्रियों की आवाजाही पर रोक लगा दी है. इस बीच विशेषज्ञों का दावा है कि कोरोना (Corona Virus) का ये नया अवतार युवाओं के लिए ज्यादा खतरनाक साबित हो रहा है.

यूरोपियन सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल के मुताबिक कोरोना (Corona Virus) का ये नया स्ट्रेन (Corona New Strain) युवा आयु वर्ग के लिए ज्यादा खतरनाक है. अब तक देखा गया है कि कोरोना 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है, लेकिन कोरोना के नए स्ट्रेन (Corona New Strain) से संक्रमण का खतरा युवाओं में ज्यादा है.

साउथ अफ्रीका (South Africa) में कोरोना के नए स्ट्रेन (SARS-CoV-2) के 200 नए मामले सामने आए हैं. साउथ अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री ज्वेली मखिजे (Zweli Mkhize) के मुताबिक कोरोना के नए स्ट्रेन (Corona New Strain)  के मामले युवाओं में ज्यादा सामने आ रहे हैं. उन्होंने ये भी बताया कि चिकित्सकों ने कोरोना के नए वेरियंट के एंटीडॉट की स्टडी में पाया है कि ये वायरस ज्यादार युवाओं में देखने को मिल रहा है. ये वो लोग हैं जिन्हें पहले से कोई बड़ी बीमारी भी नही है.

दुनिया के कई राज्यों में कोरोना की वैक्सीन का इस्तेमाल शुरू हो चुका है. लेकिन अब तक इस बात की पुष्टि नहीं की गई है कि कोरोना वैक्सीन इस नए 501.v2  वेरिएंट के खिलाफ असरदार साबित होगी या नहीं. University of Kwazulu-Natal के प्रोफेसर ट्यूलियो डे ओलिविएरा (Tulio de Oliviera) का कहना है कि मौजूदा वैक्सीन का कोरोना के नए स्ट्रेन (Corona New Strain)  पर असर के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here