कोरोना के नए ‘स्ट्रेन’ को लेकर उद्धव सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को दिए अलर्ट पर रहने के निर्देश

0
10

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कोरोना के नए स्ट्रेन (प्रकार) के खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र के सभी जिलाधिकारियों और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं. सभी जिलाधिकारियों को अलर्ट करते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि ब्रिटेन समेत कई देशों में कोरोना वायरस का नया प्रकार दहशत फैला रहा है, जो ज्यादा खतरनाक है. इस खतरे को देखते हुए राज्य के सभी विभाग के अधिकारियों को अलर्ट रहने की जरूरत है. तैयारियां अभी से शुरू कर दें.

सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि लोगों के नियमित मास्क लगाने के अभियान को तेज किया जाए, इसमें किसी भी तरह की लापरवाही ना दिखे. उद्धव ठाकरे ने लोगों से भी अलर्ट रहने की गुजारिश की है. मुख्यमंत्री की आपातकालीन बैठक में महाराष्ट्र के सभी जिलाधिकारी, मुंबई महानगरपालिका के कमिश्नर, पुलिस कमिश्नर और होम मिनिस्ट्री के अधिकारी भी शामिल थे.

उद्धव ठाकरे ने सभी विभाग के अधिकारियों से बात करते हुए कहा कि कोविड-19 पर काबू पाने के लिए हमने बहुत मेहनत की है, लेकिन कोरोना का जो दूसरा प्रकार कई देशों में देखने को मिल रहा है. हमारी कोशिश यह होनी चाहिए कि वह यहां पर मुसीबत का सबब ना बने, जिसके लिए हर तरह से तैयारियां करने की जरूरत है.

सीएम उद्धव ने कहा, “अस्पतालों में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और दवाएं, सभी चीजों के पर्याप्त इंतजाम होने चाहिए. हमें अलर्ट रहना चाहिए कि अगर कोरोना का यह दूसरा प्रकार महाराष्ट्र में पाया जाता है तो हमारे पास इससे लड़ने की हर छमता पहले से मौजूद हो.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के लिए हमने जो टास्क फोर्स बनाई है, उन लोगों को भी इससे अवगत कराया जाए और अगर जरूरत पड़े तो उन्हें किस तरह से तैयार रहना है, इसकी ट्रेनिंग देनी शुरू की जानी चाहिए. महाराष्ट्र में ‘माझा कुटुंब माझी जबाबदारी’ के तहत जो अभियान चलाया जा रहा है, उससे हमारे पास बहुत सारा डाटा इकट्ठा हुआ है, जिसका इस्तेमाल करते हुए लोगों को जागरूक किया जाए कि वह कोरोना के इस दूसरे खतरनाक प्रकार से अलर्ट रहें.

मुख्यमंत्री ने कहा, “आज रात से मुंबई में नाइट कर्फ्यू लग जाएगा. लोगों को जागरूक किया जाए कि वह बेवजह सड़कों पर ना निकलें. साथ ही राज्य में बाहर से आने वाले यात्रियों पर भी नजर रखी जाए और अधिकारी दूसरे राज्यों के भी संपर्क में रहें. राज्य की प्रयोगशालाओं को भी तैयार रहने के लिए कहा गया है, जहां कोरोना के नए प्रकार की सही तरह से जांच की जाए और समय रहते उस पर सही कदम उठाए जा सकें.”

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग को आगाह करते हुए कहा है कि कोरोना के नए प्रकार पर नजर रखी जाए और उसकी जानकारी इकट्ठा करने के लिए विशेष ध्यान दिया जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here