कोरोना संकट के बीच हालात के अनुसार ढलने वाले छोटे कारोबारियों को Facebook का सलाम, लॉन्च की ‘नई शुरुआात’ कैंपेन- जानें इसके बारे में

0
79

फेसबुक के पहले फ्यूल फॉर इंडिया वर्चुअल इवेंट की पूर्वसंध्या पर कंपनी ने एक ‘नई शुरुआात’ कैंपेन लॉन्च किया। इस फिल्म में असली कहानियां होंगी कि किस तरह छोटे कारोबारियों ने आर्थिक संकट और मंदी से उबरने के लिए अपने बिजनेस को ऑनलाइन फैलाया, नई शुरुआत की और अपना विस्तार करने के लिए फेसबुक कम्युनिटीज की ताकत का इस्तेमाल किया। फेसबुक ने देश के छोटे कारोबारियों को हालात के अनुसार ढलने पर सलाम करते हुए एक “नई शुरुआत” कैंपेन लॉन्च किया है। विश्व में महामारी के दौरान भीषण संकट के बीच छोटे कारोबारियों ने जिस तरह अपने व्यापार को फिर से खड़ा करने के लिए बुलंद हौसलों का परिचय देते हुए नई शुरुआत की, उसका जश्न फेसबुक ने मनाया है।

फेसबुक 15 और 16 दिसंबर को फ्यूल फॉर इंडिया के आगामी वर्चुअल इवेंट में इस तरह की कई कहानियां लॉन्च की जाएंगी। फेसबुक इंडिया में लघु एवं मझोले बिजनेस की निदेशक अर्चना वोहरा ने नई शुरुआत के बारे में बताते हुए कहा, “फेसबुक का लक्ष्य हमेशा से कारोबारियों के लिए नए अवसरों का सृजन करना रहा है। फेसबुक ने लघु कारोबार के लिए खासतौर पर भारत में छह करोड़ से ज्यादा नए अवसरों का निर्माण किया है। इस अनिश्चितता के माहौल में हम सभी छोटे कारोबारियों के हौसले से बेहद प्रभावित हुए, जिन्होंने अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए ऑनलाइन नए तरीकों और रणनीति की खोज की। इसमें कई लोग पहली बार ऑनलाइन जुड़े थे। हर दिन हम छोटे और मंझोले कारोबारियों की ओर से समाज के सामने पेश किए गए हैरतअंगेज और अनोखे उदाहरणों को देखते हैं, जिन्होंने खासतौर से इस चुनौतीपूर्ण समय में नई शुरुआत की और अपने बिजनेस का विस्तार किया। यह फिल्म कारोबारियों के आर्थिक घाटे से उबरने और नई शुरुआत करने का जश्न मनाती है। हमें उम्मीद है कि उनके लचीलेपन से देश में लाखों दूसरे कारोबारियों और उद्यमों को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी।”

Facebook launches new campaign to encourage voting

उन्हाेंने कहा कि नई शुरुआत की पेशकश एक फिल्म से की जाएगी, जिसका फोकस तीन अनोखे स्मॉल बिजनेस पर होगा। इनमें टॉक्सिन फ्री मॉम एंड बेबी प्रॉडक्ट्स बनाने वाली कंपनी, द मॉम्स कंपनी, कॉफी मेकिंग के स्मॉल बिजनेस से जुड़ी कंपनी, स्लीपी ऑउल और स्थिर फैशन ब्रैंड डूडलएज शामिल हैं। इससे अलग-अलग इंडस्ट्रीज से संबंध रखने के बावजूद महामारी से प्रभावित तीनों बिजनेस को फिर से धमाकेदार रूप से उबारने में कामयाबी मिली। इसके लिए फेसबुक और इंस्टाग्राम कम्युनिटी की मजबूती और पहुंच का लाभ उठाया गया।

द मॉम्स कंपनी की सहसंस्थापक मलिका सदानी ने कहा, “हमने फेसबुक पोस्ट के साथ तीन महीने पहले द मॉम्स कंपनी की शुरुआत की थी और देश भर में मदर्स की मजबूत कम्युनिटी का निर्माण किया था। इससे हमें भारत में मॉम्स और बेबीज के लिए नेचुरल, टॉक्सिन फ्री और सुरक्षित पर्सनल केयर प्रॉडक्ट्स का प्रमुख ब्रैंड बनने में मदद मिली। कोरोना ने हमारी विस्तार योजनाओं पर अचानक ब्रेक लगा दिया था, जिसने हमें अपनी रणनीति का फिर से मूल्यांकन करने पर मजबूर किया। इससे हमने नई सामान्य स्थिति में नई शुरुआत करने का तरीका खोजा। हमने अपना विकास करने के लिए फेसबुक और इंस्टाग्राम की कम्युनिटी का सहारा लिया। पिछले कई महीनों से हमने खुद को नियमित रूप से कम्युनिटी से जोड़ा है, लगातार बातचीत की है और अपने को नए सिरे से ढालने की कोशिश की है। इससे हम प्रॉडक्ट के विकास की नई प्रक्रिया सीखने में सफल हुए। कोरोना से पहले हमारा कारोबार जिस जगह था, इस नई शुरुआत से हमें अपने बिजनेस को 200 फीसदी तक बढ़ाने में सफलता मिली है। इस नई शुरुआत के केंद्रबिंदु में फेसबुक है।”

डूडलऐज की सहसंस्थापक कृति तुला ने कहा, “डूडलेज का जन्म फैशन और स्थिरता को एक साथ लाने के सपने के साथ हुआ है। डूडलऐज के अभियान में इंस्टाग्राम पर मौजूद लोगों के आइडियाज की गूंज सुनाई दी है, जिनके विचार जीवन के अलग-अलग क्षेत्रों में उनके जुनून से संबंधित थे। हमारे प्रॉडक्ट्स में फैक्ट्री के कचरे से बनाए गए नए उपयोगी आइटम शामिल हैं। कोरोना काल में फेसबुक और इंस्टाग्राम के इस्तेमाल से हमारी कंस्यूमर्स से ऑनलाइन जुड़ने की रफ्तार दोगुनी से भी अधिक हो गई है। फेसबुक और इंस्टाग्राम के प्रयोग से हमने धमाके के साथ वापसी करने में कामयाबी पाई है। अब हम अपने प्रॉडक्ट्स की डिलिवरी केवल भारत में ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि ऑस्ट्रेलिया, दुबई, सिंगापुर और यूरोप तक अपने बिजनेस का विस्तार करने में हमने कामयाबी पाई है।

Facebook Launches New US Campaign to Encourage Voting | Technology News

नई शुरुआत फिल्म का निर्माण वंडरमैन थॉम्पसन ने किया है। यह कैंपेन प्रिंट, डिजिटल और टेलिविजन पर चलाया जाएगा। पिछले कुछ महीनों में फेसबुक ने छोटे कारोबार को आर्थिक घाटे से उबारने के लिए कई कदम उठाए हैं। फेसबुक ने 10 करोड़ डॉलर के अनुदान के हिस्से के तौर पर 43 लाख डॉलर के अनुदान की घोषणा छोटे कारोबारियों की मदद देने के लिए की है। फेसबुक इंडस्ट्री में महत्वपूर्ण ऑनलाइन स्किल प्रोग्राम चलाकर कोरोना महामारी के दौरान छोटे कारोबारियों को लगातार मदद मुहैया करा रही है। सोशल मीडिया के इस दिग्गज प्लेटफॉर्म का नया फ्लैगशिप स्किलिंग प्रोग्राम बूस्ट विद फेसबुक लोगों के पास हिंदी और अंग्रेजी में फेसबुक लाइव के माध्यम से पहुंचाया जा रहा है। कंपनी ने हाल ही में हिंदी और अंग्रेजी में लोकल एसएमबी गाइड लॉन्च की है, जिससे मदद लेकर छोटे कारोबारियों ने अपने बिजनेस को ऑनलाइन आगे बढ़ाया है।

इस सुविधा का लाभ भारत में 90 लाख से ज्यादा छोटे कारोबारियों ने उठाया है। एफबी का एडवरटाइजर विंटेज प्रोग्राम का फोकस युवा कारोबारियों को बिजनेस की नई स्किल सिखाना है। फेसबुक की ओर से इस पर केंद्रित वेबिनार भी आयोजित किए हैं। कंपनी ने इस साल 3000 से ज्यादा बिजनेस को नई स्किल प्रदान की है। देश में छोटे कारोबार के विकास का इकोसिस्टम बनाने के लिए कंपनी ने वीसी बेस्ड इनक्यूबेटर प्रोग्राम शुरू किया है, जिसकी वेंचर कैपिटल फंड से साझेदारी है। यह कार्यक्रम वर्चुअल भी चलाया जा रहा है। अब तक फेसबुक ने सात वेंचर कैपिटल फंड्स से साझेदारी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here