किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन लेने हेतु अब एनओसी की जरूरत नहीं: बराला

0
21

हरियाणा में गत सात वर्षों से ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए एनओसी लेने को लेकर परेशान हजारों किसानों को केंद्र और प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने सौगात दी है जिसके बाद अब उन्हें एनओसी की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस विषय मे केंद्र सरकार के जल मंत्रालय विभाग की ओर से हिसार क्षेत्रीय भूतल अधिकारी, जिला उपायुक्त फतेहाबाद, एसडीएम टोहाना, कार्यकारी अभियंता बिजली बोर्ड और जन स्वास्थ्य विभाग को पत्र भेज दिया। उल्लेखनीय है कि टोहाना और फतेबाहाद जिले को वर्ष 2013 में डार्क जोन में डाल दिया गया था जिसके चलते यहां ट्यूबल का कनेक्शन लेने के लिए ग्रामीणों को एनओसी तैयार करानी पड़ती थी और विभागों के चक्कर काटने पड़ते थे। उपमंडल के अनेक गांवों के किसानों ने पूर्व में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और टोहाना विधायक सुभाष बराला से मिलकर कई बार समस्या के बारे अवगत कराया जिसके बाद श्री बराला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केंद्रीय जलमंत्री रतनलाल कटारिया से मुलाकात की। अब सरकार की ओर से एनओसी के बिना ट्यूबवेल कनेक्शन देने के लिए पत्र जारी कर दिया है। इस बारे में किसान रिंकुमान, ईश्वर नैन, जयवीर सिंह, डॉ. दलबीर, पवन मेहला, सुरजीत डांगरा, धूप सिंह ने बताया कि सात साल से किसान टयूबवैल कनैक्शन के लिए परेशान रहते थे। किसानों ने भाजपा पूर्व अध्यक्ष और हरियाणा सावर्जनिक उपक्रम ब्यूरों के चेयरमेन सुभाष बराला से मिलकर ज्ञापन दिया था। श्री बराला ने इस मांग को मुख्यमंत्री और केंद्रीय जलमंत्री के समक्ष उठाया और अब किसानों को ट्यूबवैल के लिए एनओसी की जरूरत नही पड़ेगी। सरकार की यह सौगात किसानों के लिए वरदान से कम नही है, इसके लिए वे मुख्यमंत्रीए केंद्रीय मंत्रीए श्री बराल का आभार व्यक्त करते है। लम्बे समय से टोहाना ब्लॉक डार्क जोन में था जिसके चलते किसानों को टयूबवैल लगाने के लिए एनओसी की जरूरत पड़ती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here