दुल्हन को हुआ कोरोना , वर-वधू ने PPE किट पहनकर लिए सात फेरे

0
39

राजस्थान के बारां जिले के केलवाडा कस्बे में रविवार को एक अनूठी शादी हुई। दुल्हन की कोविड रिपोर्ट के पाजिटिव आने के कारण कोविड सेंटर में शादी तो हुई, लेकिन दुल्हा-दुल्हन ने पीपीई किट पहनकर सात फेरे लिए। परिवार और पंडितजी ने भी पीपीई किट पहनकर विवाह की रस्में पूरी कराईं। जिले के केलवाडा कस्बे के एक घर में बेटी की शादी की तैयारियां चल रही थीं। उसी के चलते दुल्हन और उसकी मां की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आ गई। परिवार ने कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद ऐसा लगा कि अब तो सारे कार्यक्रम टालने पडे़गे। इतनी तैयारियों के साथ खर्चा भी हो गया है। कैसे फेरे होंगे, यह दुविधा भी सताने लगी।

ऐसे में परिवार ने यह समस्या अधिकारियों को बताई और कोरोना प्रोटोकाल की पालन करने का भरोसा देते हुए शादी करवाने की गुजारिश की। अधिकारियों ने भी इस शादी को चुनौती मानते हुए स्वीकृति दे दी। शादी की तमाम रस्में पूरी करते वक्त कोरोना प्रोटोकाल का खास ध्यान रखा गया। कोविड केयर सेंटर में ही मंडप सजाया। दुल्हा- दुल्हन समेत उनके माता-पिता, पंडित को पीपीई किट पहनाई। बाद में मंत्रोच्चारण के साथ दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे लिए। दूल्हे ने पीपीई किट पहनकर ही तोरण मारने की रस्म पूरी की। कोरोना की वजह से नाते, रिश्तेदार और दोस्त शादी में शामिल नहीं हो सके। इस दौरान कोविड केयर सेंटर के डाक्टर और स्टाफ जरूर मौजूद रहा।

छतरगंज में रहने वाली लड़की की शादी दांता के एक टीचर से तय हुई थी। परिवार के कुछ सदस्यों ने दो दिन पहले ही गांव में जांच के लिए सैंपल दिए थे। रिपोर्ट में दुल्हन और उसकी मां कोरोना पाजिटिव पाई गई। यह सुनते ही परिवार परेशानी में पड़ गया। रिवाज के मुताबिकए एक बार तेल चढ़ने के बाद शादी होना तय होता है।

प्रशासनिक अधिकारियों ने भी दूल्हा-दुल्हन के परिवार की मांग पर कलेक्टर से निर्देश लिए। इसके बाद एसडीएम राहुल मल्होत्रा की अगुवाई में एक कमेटी बनाई गई। फिर कोविड केयर सेंटर के परिसर में शादी कराने की तैयारी की गई, और शादी हो गई।

आपको बता दें कि दुल्हा- दुल्हन के फेरे ले लेने के बाद उन्हें कोविड सेंटर में ही अलग-अलग कमरे में रुकवाया गया है। साथ ही इस दौरान दुल्हन की मां को एक अलग कमरे में ठहराया गया। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को भी फिलहाल दुल्हन को ससुराल भेजने पर संशय बना रहा है। वहीं प्रशासन का कहना है कि अगर रिपोर्ट नेगेटिव आई तो 7 दिन बाद दुल्हन को घर भेज दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here