आईएईए के निरीक्षणों को निलंबित करने से कूटनीतिक प्रयासों को झटका लग सकता : रूहानी

0
22

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने बुधवार को कहा कि परमाणु गतिविधियों के पुनरुद्धार और अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के निरीक्षणों को निलंबित करने संबंधित विधेयक देश के कूटनीतिक प्रयासों को नुकसान पहुंचा सकता है।

ईरानी संसद ने मंगलवार को एक विधेयक को मंजूरी दी जिसके तहत परमाणु अप्रसार संधि अतिरिक्त प्रोटोकॉल की आवश्यकताओं से परे ईरान में सभी आईएईए निरीक्षणों को रोकने के लिए अन्य उपायों की मांग की गई है।

रूहानी ने टेलीविजन पर प्रसारित एक सरकारी बैठक के दौरान कहा, ‘‘सरकार इस योजना से सहमत नहीं है। हमारा मानना ??है कि यह सक्रिय राजनयिक प्रयासों और गतिविधियों को नुकसान पहुंचाएगा।’’ उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि अभी की स्थितक में ईरान का परमाणु क्षेत्र पहले की तुलना में काफी मजबूत है।

ईरानी सदन ने रविवार को एक विधेयक पारित किया, जिसे ‘प्रतिबंधों को हटाने के लिए रणनीतिक उपाय’ करार दिया गया है। विधेयक के अनुसार ईरान सालाना 20 प्रतिशत समृद्ध यूरेनियम का कम से कम 120 किलोग्राम उत्पादन करेगा, जिसमें हथियार-ग्रेड यूरेनियम 20 प्रतिशत से अधिक के संवर्धन स्तर तक उन्नत होगा। ईरान वर्तमान में यूरेनियम को 4 प्रतिशत से ऊपर स्तर पर समृद्ध कर रहा है, जो परमाणु समझौते द्वारा निर्धारित 3.67 प्रतिशत से थोड़ा अधिक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here