सभासद ने बीजेपी सांसद पर लगाया मारपीट का आरोप, सांसद ने निराधार बताया

0
41

उत्तर प्रदेश के देवरिया में नगर पालिका देवरिया के भाजपा सभासद ने यहां अपने ही पार्टी के सांसद पर मारपीट का आरोप लगया है जबकि सांसद ने इसे निराधार बताया है। देवरिया में वार्ड नम्बर17 राघव नगर के सभासद आशुतोष तिवारी ने शनिवार को मुख्यमंत्री को लिखे गये पत्र में कहा है कि जिला पंचायत परिसर स्थित सदर सांसद रमापति राम त्रिपाठी के आवास पर उनके साथ मारपीट की गई। उनका कहना है कि नगर पालिका परिषद की बोर्ड बैठक में टाउनहाल स्थित प्रेक्षागृह का नाम पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखे जाने का प्रस्ताव उन्होंने रखा था। जिसे नगरपालिका बोर्ड ने पास कर दिया और गोरखपुर कमिश्नर ने भी संस्तुति प्रदान कर दी।

उन्होंने मुख्यमंत्री को भेजे गये पत्र में कहा है कि इसी बीच सितंबर 2020 को प्रशासन एवं संगठन के कुछ लोगों की शह पर अज्ञात लोगों ने पूर्व सांसद स्व. मोहन सिंह की प्रतिमा स्थापित कर दी। प्रेक्षागृह में उनका पूर्व सांसद का नाम लिख  दिया गया। सभासद आशुतोष ने आरोप लगाते हुए कहा है कि 19 नवंबर की शाम को जब सांसद के जिला पंचायत कैंपस स्थित आवास पर गए तो  सांसद रमापति राम त्रिपाठी ने कहा कि मिलकर जाना जरूरी बात करनी है। रात साढ़े दस बजे सब लोग चले गए, सिर्फ ठेकेदार गिरीश सिंह मुन्ना मौजूद रहे।

इस दौरान सांसद ने कहा कि नगरपालिका बोर्ड की बैठक होने वाली है। उसमें अपना प्रस्ताव जो सभागार का दिए हो वापस ले लेना। हमने कहा कि ऐसा संभव नहीं है। इसी बात पर भड़क गए और अपशब्द कहने लगे। उन्होंने पत्र में कहा है कि इसी बीच ठेकेदार गिरीश  सिंह मुन्ना धक्का-मुक्की कर गाली देने लगे। उन्होंने पिस्टल निकालकर धमकी  दी और भाग जाने को कहा। विरोध किया तो मारो-मारो कहकर सांसद खुद मारने लगे। उनका ड्राइवर रंजय, ठेकेदार गिरीश सिंह मुन्ना, आशीष मौर्य सहित कई लोग मारपीट करने लगे।

ठेकेदार गिरीश सिंह मुन्ना ने मुझ पर पिस्टल तान दिया।  बरहमी से मेरी पिटाई की गई। किसी तरह जान बचाकर वहां से भागा। सभासद तिवारी ने अपने पत्र में कहा है कि मैं अपने मां बाप का एकलौता संतान हूं।अगर मेरे साथ कोई अप्रिय घटना होती है तो सांसद रमापति राम त्रिपाठी  जिम्मेदार होंगे। इसकी सूचना मुख्यमंत्री सहित सभी को मेरे द्वारा दी गई है। इस सम्बन्ध में सांसद रमापति राम त्रिपाठी आज यहां कहा कि मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है। इससे हतप्रद हूं। सभासद के आरोप गलत और निराधार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here