विराट के नहीं होने से भारतीय बल्लेबाजी में बड़ा अंतर पैदा होगा : चैपल

0
8
Germany player Johannes Grosse (L) and Pakistan player Ammad Butt (R) fight for the Ball during the field hockey group stage match between Germany and Pakistan at the 2018 Hockey World Cup in Bhubaneswar on December 1, 2018. (Photo by ASIT KUMAR / AFP)

ऑस्ट्रेलिया टीम के पूर्व कप्तान और मशहूर कमेंटेटर ईयान चैपल का कहना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली के बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के आखिरी तीन मैचों में नहीं रहने से भारतीय टीम की बल्लेबाजी में बड़ा अंतर पैदा होगा। विराट एडिलेड से 17 दिसंबर से शुरू हो रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में हिस्सा लेने के बाद स्वदेश लौट जाएंगे। ऐसे में विराट की गैरमौजूदगी से टीम इंडिया के प्रदर्शन को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

चैपल नेकहा, ‘‘कप्तान विराट पहले टेस्ट के बाद जब स्वदेश लौट जाएंगे तो भारत को टीम चयन को लेकर समस्या आएगी। यह भारतीय बल्लेबाजी क्रम में एक बड़ा अंतर पैदा करेगी लेकिन इसके साथ ही यह एक उभरते खिलाड़ी को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका देगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘दोनों टीमों के बीच रोचक मुकाबला होने जा रहा है और इसमें सबसे अहम चयन प्रक्रिया है। परिणाम से पता लगेगा कि टीम संयोजन में बेहतर कौन साबित हुआ।’’

ऑस्ट्रेलिया टीम के लिए 1971 से 1975 तक कप्तानी कर चुके 77 वर्षीय चैपल ने केवल भारत ही नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया के टीम संयोजन को लेकर भी विचार रखे। उन्होंने ओपनिंग में डेविड वार्नर के जोड़ीदार के तौर पर जो बर्न्स की जगह युवा बल्लेबाज विल पुकोवस्की का समर्थन किया। चैपल ने कहा,  ‘‘खिलाड़यिों का चयन हमेशा मौजूदा फॉर्म के आधार पर होना चाहिए। वॉर्नर के सलामी जोड़ीदार के रूप में मैं बर्न्स की जगह पुकोवस्की के नाम का समर्थन करूंगा। उन्होंने शेफील्ड शील्ड टूर्नामेंट में छह शतक लगाए, जिसमें से तीन दोहरे शतक थे। उसने साबित किया है कि वह ऊंचे स्तर की क्रिकेट में खेलने के योग्य हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here