IPL फाइनल में मुंबई इंडियंस से मिली हार के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने दिया ये बयान…

0
8

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने इंडियन प्रीमियर लीग फाइनल में मुंबई इंडियंस से मिली हार के बाद कहा कि उन्हें अपनी टीम के खिलाड़ियों पर गर्व है क्योंकि फाइनल में पहुंचना छोटी उपलब्धि नहीं है। दिल्ली कैपिटल्स की टीम पहली बार फाइनल में पहुंची और अय्यर ने कहा, ‘‘हम अब और मजबूत होकर वापसी करेंगे और कोशिश करेंगे कि हम ट्राफी जीत जायें। ’’

अय्यर ने दूसरे स्थान पर रही टीम का 12 करोड़ 50 लाख रूपये का चेक लेने के बाद कहा, ‘‘आईपीएल हमेशा आपको हैरान करती है। यह लीग शायद सबसे कठिन लीग में से एक है। इस लीग में खेलने का अहसास अद्भुत है। यह शानदार सफर रहा। मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है, फाइनल में पहुंचना कोई छोटी उपलब्धि नहीं है। यह शानदार उपलब्धि है। आईपीएल जीतना और ज्यादा बड़ा है – यह इससे एक कदम आगे है। ’’ उन्होंने अपनी टीम के प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया जिन्होंने पूरे सत्र में टीम का समर्थन किया।

कोच रिकी पोटिंग की प्रशंसा करते हुए अय्यर ने कहा, ‘‘मैंने कई बार जिक्र किया है, मैंने अभी तक जिन सबके साथ काम किया है, रिकी शायद सर्वश्रेष्ठ हैं। वह जितनी आजादी देते हैं, वह शानदार है। मुझे उनके साथ होना पसंद है। वह आत्मविश्वास से भरे कोच हैं, मैं उनका काफी सम्मान करता हूं। वह जिस तरह से बैठक करते हैं और खिलाड़ियों को प्रेरित करते हैं, वह शानदार है। ’’

दिल्ली कैपिटल्स के कोच पोंटिंग ने कहा, ‘‘मुंबई इंडियंस की टीम बेहतर टीम रही है, उन्होंने हमें चार बार हराया। हमने जैसा क्रिकेट खेला, उस पर मुझे काफी गर्व है। हमारे पास अच्छे खिलाड़ी हैं। ’’ अय्यर के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘वह शानदार युवा खिलाड़ी है, शानदार कप्तान और बेहतरीन इंसान। पिछले 12 महीनों में उसका दर्जा काफी बढ़ा है। ’’ मैन आफ द मैच ट्रेंट बोल्ट को ट्राफी और पांच लाख रूपये का चेक प्रदान किया गया जिन्होंने 30 रन देकर तीन विकेट झटके।

बोल्ट ने पॉवरप्ले में विकेट झटकने के बारे में कहा, ‘‘हां, कुछ दिन पॉवरप्ले पसंद हैं। दो महीने काफी अच्छे रहे। मैंने फ्रेंचाइजी के साथ काफी लुत्फ उठाया। खिताबी जीत दर्ज करना शानदार है। थोड़ी बहुत चोट लगती रही, लेकिन निश्चित रूप से मैं अपनी भूमिका निभाने के लिये क्रीज पर होना चाहता था। ’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here