शुरूआत में अंतिम एकादश में न होने से निराश था : रहाणे

0
10
 दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि आईपीएल-13 शुरूआती मैचों में खेलने का मौका नहीं मिलने से वह निराश थे। रहाणे ने सोमवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ एक अहम मैच में अर्धशतक लगाकर टीम को छह विकेट जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।
दाएं हाथ के बल्लेबाज ने आईपीएल के 13वें सीजन में पिछले छह मैचों में केवल 111 रन ही बनाए थे। लेकिन बेंगलोर के खिलाफ उन्होंने 60 रन की अहम पारी खेली और शिखर धवन (54) के साथ मिलकर टीम को शानदार जीत दिलाई। इस जीत के दम पर दिल्ली प्लेआफ में पहुंच गई हैं।
रहाणे ने मैच के बाद अपने साथी बल्लेबाज धवन के साथ बातचीत के दौरान कहा, ” आखिरकार मुझे खेलने का मौका मिला। जब मैं टीम में नहीं था तो काफी निराश था। मगर अब जीत में योगदान देने के बाद अच्छा लगा। (धवन) आपके साथ बल्लेबाजी करने में मजा आया।”
उन्होंने आगे कहा, ” कोच रिकी पोंटिंग ने मुझे बताया कि मैं तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने जा रहा हूं और मुझे लगा कि एक अच्छा मौका है। इस तरह के दबाव में होना मेरे लिए एक चुनौती की तरह थी। एक खिलाड़ी के रूप में, अगर आप इस स्थिति में योगदान करते हैं तो आप अच्छा महसूस करते हैं और जब टीम जीतती है तो खुशी दोगुनी हो जाती है।”
धवन टूर्नामेंट के 14 मैचों में अब तक 525 रन बना चुके हैं। उन्होंने कहा, ” हमारे ऊपर दबाव था क्योंकि हमें पता था कि हमें इस मैच को जीतना है, खासकर टूनार्मेंट में शानदार शुरूआत करने के बाद लेकिन फिर हम कुछ मैच हार गए। धवन ने आगे कहा, ” मैं बहुत खुश हूं कि हमने दूसरे स्थान पर रहते हुए लीग चरण का समापन किया और अब उम्मीद है कि हम 10 नवंबर को फाइनल मैच जीतकर ट्रॉफी उठाएंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here