मायावती सपा के दलित विरोधी कार्यों से खफा, अब दो-दो हाथ करने को तैयार

0
12

लोकसभा चुनाव 2019 में समाजवादी पार्टी के साथ उत्तर प्रदेश में बड़ा गठबंधन करने वाली बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती अब समाजवादी पार्टी (सपा) से दो-दो हाथ करने को भी तैयार हैं। राज्यसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के निर्दलीय प्रकाश बजाज को समर्थन देने से खफा मायावती ने दो टूक कहा है कि बसपा अब तो दलित विरोधी समाजवादी पार्टी को करारा सबक सिखाएगी।

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बहुजन समाज पाटी उत्तर प्रदेश में होने वाले एमएलसी चुनावों में समाजवादी पार्टी (सपा) को हराने के लिए भाजपा या किसी अन्य पार्टी का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि हमने सपा के दलित विरोधी कार्यों के खिलाफ अपना कड़ा रुख दिखाने के लिए यह निर्णय लिया है।

मायावती ने दी सफाई

मायावती ने बसपा को भाजपा की बी टीम कहे जाने पर भी सफाई दी। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि हमने भाजपा के साथ किसी भी प्रकार के गठबंधन की बात नहीं कही है। भाजपा के साथ गठबंधन की बात गलत है। हमने भाजपा से कोई गठबंधन नहीं किया। उन्होंने कहा कि मेरे बयान को गलत प्रचारित किया गया। बसपा की सिर्फ भाजपा का साथ की बात गलत है। हमने कहा था कि समाजवादी पार्टी को हराने वाले किसी भी दल का साथ देंगे। सपा को हराने के लिए भाजपा या किसी भी अन्य दल को समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि बसपा की की विचारधारा सर्वधर्म हिताय सर्वधर्म सुखाय की है। इसी कारण हमने बीते लोकसभा के साथ ही विधानसभा उप चुनाव में भी सभी वर्ग के लोगों के साथ मुस्लिमों को टिकट दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here